सेवा में परिवर्तन

वर्ग

People power4
यह मानसिकता रखने का क्या मतलब है कि समाज में विकलांगता एक वरदान है जिसके बिना हम नहीं रह सकते हैं? कि विकलांगता का अनुभव करने वाले और ऐसे लोग जिनके जीवनों में इन व्यक्तियों की उपस्थिति की पूर्णता प्राप्त है वे महत्वपूर्ण कौशल, सबक और तकनीक रखते हैं, जिससे सभी लोगों को लाभ होता...
अधिक पढ़ें
Beyond choir photo1
डॉ. रीता जेम्स और डॉ. नीलम सोंढी का मानना है कि भारत में विकलांगता युक्त लोगों के लिए समानता और न्याय की दिशा में काम करने के लिए परिवार के सदस्यों और इस क्षेत्र के पेशेवरों के समूहों से आगे बढ़ना होगा। वे दोनों ही संगठनों के अन्तर्गत परिवर्तन के लिए काम करते हैं, और...
अधिक पढ़ें
Woman holding frame for making paper sheets from waste paper pulp. Selective focus. Decorative and applied art. Recycling concept, ecology.
देशीय स्थानों में रहने वाले शिल्पकार और दस्तकार जानते हैं कि उनकी कला और शिल्प अपने साथ उन लोगों का ज्ञान संजोये हुए हैं जो पहले ही दुनिया से जा चुके हैं। सधे हुए हाथों से कुछ सुंदर, सार्थक और उपयोगी बनाने का हुनर, और यह ज्ञान कि एक हाथ की बनी वस्तु का मूल्य...
अधिक पढ़ें
Dipyaman
एक अदृश्य इकाई, एक छोटे से वाइरस ने वह सब कुछ बदल दिया है जिसे हम सामान्य के रूप में जानते थे। भारत में तालाबंदी से सब कुछ ठप पड़ गया। स्कूलों और कार्यक्रमों के बंद होने से विशेष आवश्यकता वाले लोगों के माता-पिता एक मुश्किल स्थिति में पड़ गए और कभी-कभी ऐसा लगता है...
अधिक पढ़ें
A Unique Life to Live
यदि आप ऑटिज्म सोसाइटी पश्चिम बंगाल के रोजगार प्रभाग में जाते हैं, तो आप वहां काम करने वाले लोगों और प्रशिक्षणार्थियों को“हमारे बच्चों” के रूप में सम्बोधित किया जाना नहीं सुनेंगे। आपदीवारों को उदारता पूर्वक देने वालों की प्रशंसा करते हुए दान पट्टिकाओं के साथ भरा हुआ नहीं देखेंगे और न ही दीवारों पर आटिस्म...
अधिक पढ़ें
Transformation-in-Service-Glimpse-5-Making-of-one-page-profile2 (Canva-edited)
तस्वीरें सुजाता खन्ना फोटोग्राफी से हैं विकलांगता युक्त लोगों को अक्सर “उन लोगों” के रूप में देखा जाता या वर्णन किया जाता है- और उनको अलग-थलग कर देना या एक जगह में इकट्ठा कर रखने के कारण ना सिर्फ उन्हें अलग लोगों के रूप में देखे जाने की प्रवृति को बढ़ावा मिलता है परन्तु उन्हें...
अधिक पढ़ें
SUDHA
सुधा नायर, पुणे की एक विशेष शिक्षिका और सक्रिय कार्यकर्ता, वर्ष 2018 में ही सामाजिक भूमिका मूल्यदर्द्धन की क्षमता से प्रभावित हुईं। उन्होंने हाल ही में एस.आर.वी. 3.0 में चार-दिवसीय कार्यक्रम में भाग लिया और अपने तेज दिमाग को व्यक्तिगत शिक्षा योजना (आई.ई.पी.) को, योग्यता वृद्धि के लिए एक सार्थक योजना से संबंधित करने की...
अधिक पढ़ें
Transformation in Service Glimpse 3 Hindi
उन क्षेत्रों में से एक  जिसमें सामाजिक भूमिका मूल्यवर्द्धन हमारी दृष्टि को तेज करता है वह है- लोगों के बारे में नकारात्मक या सकारात्मक संदेशों को व्यक्त करने में भाषा की शक्ति को पहचानना। कालीकट विश्वविद्यालय के अन्तर्गत सी.डी.एम.आर.पी. के मनोवैज्ञानिक और नेता डॉ.रहीमुद्दीन पी.के. ने चार दिवसीय गहन एस.आर.वी. कार्यशाला में भाग लिया और...
अधिक पढ़ें
Transformation in Service-Glimpse 2-annual-report-cover-valued-roles-ashish
आशीष सेन्टर अपने  संस्थापक गीता मंडल और वर्तमान निदेशक, शीला जॉर्ज के मार्गदर्शन के तहत, एक के बाद एक मजबूत रणनीति के साथ सतत तरीके से व्यक्तिकेन्द्रित व्यवहार और सामाजिक भूमिका मूल्यवर्द्धन के कार्यान्वयन में लगा है। समय के साथ, हम इनमें से कई रणनीतियों का और अधिक विस्तार से वर्णन करेंगे, लेकिन इस झलक...
अधिक पढ़ें
Transformation in Service-Glimpse-1-Prayatna
प्रयत्न पुणे, महाराष्ट्र में एक छोटा सा संगठन है, जो विकासात्मक विकलांगता वाले वयस्कों और बच्चों की सहायता के लिए समर्पित है। संस्थापक साझेदार राडिया गोहिल और मृदुला दास ने 2016 में दिल्ली में सोशल रोल वेलोराइजेशन कोर्स के उद्घाटन समारोह में भाग लिया, और ऐसे लोगों की सहायता करने के विचार से बहुत प्रभावित...
अधिक पढ़ें